बाल वैज्ञानिकों की सोच को विकसित करने के लिए आयोजित की गई कार्यशाला

संत कबीर नगर – धनघटा स्थित बाल विद्यालय परसादपुर में एक दिवसीय राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद का प्रशिक्षण दिया गया। जिसमे राष्ट्रीय विज्ञान प्रौद्योगिकी संचार परिषद भारत सरकार के कार्यक्रम की 27 वीं राष्ट्रीय बाल विज्ञान 2019 में जनपद स्तरीय मार्गदर्शन शिक्षक कार्यशाला भाग-2 का शुभारंभ गुरुवार को विद्यालय के प्रबंधक प्रदीप कुमार श्रीवास्तव द्वारा किया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला समन्वयक अभिषेक कुमार सिंह द्वारा प्रोजेक्ट बनाने की जानकारी एवं उसे ऑनलाइन करने की विधि पर बहुत बेहतरीन ढंग से बताइ गई। इस कार्यशाला का मुख्य उद्देश स्वच्छ हरित एवं स्वस्थ राष्ट्र हेतु विज्ञान तकनीक एवं नवाचार पर विस्तृत चर्चा की गई। धनघटा दिव्यांशु कुमार द्वारा इस के बारे मे बताया गया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बाल वैज्ञानिकों के वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देना है।

जिसमें कक्षा 6 से 12 तक के बाल वैज्ञानिक जिनकी उम्र 10 वर्ष से 17 वर्ष की हैं। ऐसे छात्र प्रतिभाग कर सकते है। कार्यशाला में धनघटा तहसील के शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम के अंत में योगेंद्र सिंह व अवध नारायण मिश्रा द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले शिक्षकों को प्रशस्ति पत्र दे कर सम्मानित किया गया। इस मौके पर उमेशचंद यादव, यदुनाथ शुक्ला, सुनील कुमार रंजन, हरि शंकर पाठक, संजय कुमार, अनिरुद्ध उपाध्याय , भावनाथ पांडये, जितेंद्र कुमार, प्रदीप कुमार यादव सहित तमाम शिक्षक मौजूद रहे।

रिपोर्ट – पूनम पांडेय 

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn