तबलीगी जमात के लोगों का इलाज नहीं करेंगी महिला डॉक्टर

लखनऊ-  उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के एक अस्पताल में तबलीगी जमात के लोगों द्वारा महिला डॉक्टरों और नर्सों के साथ अश्लील व्यवहार पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुरी तरह भड़क गए हैं। योगी ने साफ कहा है कि तबलीगी जमात के लोगों का इलाज अब महिला चिकित्माकर्मी नहीं करेंगी। साथ ही उन्होंने कहा कि इनकी सुरक्षा में भी महिला पुलिसकर्मियों को नहीं लगाया जाएगा। महिला डॉक्टरों एवं नर्सों के साथ हुए बर्ताव को जघन्य अपराध बताते हुए योगी ने कहा कि आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लागाय जा रहा है।

योगी आदित्यनाथ ने घटना पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, ‘ये ना कानून को मानेंगे, ना व्यवस्था को मानेंगे। ये मानवता के दुश्मन हैं। जो इन्होंने महिला स्वास्थ्यकर्मियों के साथ किया है, वह जघन्य अपराध है। इन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लगाया जा रहा है। हम इन्हें छोड़ेंगे नहीं।’ नर्सों के साथ अभद्रता पर बड़ा फैसला लेते हुए योगी ने कहा कि अब महिला स्वास्थ्यकर्मियों और महिला पुलिसकर्मियों को तबलीगी जमात के लोगों की चिकित्सा एवं सुरक्षा में नहीं लगाया जाएगा और इसके लिए पुरुषों को तैनात किया जाएगा।

गाजियाबाद स्थित एमएमजी हॉस्पिटल के कुछ स्टाफ ने 1 अप्रैल यानी बुधवार को गाजियाबाद के मुख्य चिकित्साधीक्षक को अस्पताल स्टाफ की ओर से शिकायती पत्र लिखा था। इस पत्र के मुताबिक, ‘अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कई जमाती मरीज स्टाफ और नर्सिंग स्टाफ के साथ बदतमीजी से पेश आ रहे हैं। इनमें कुछ जमाती और संदिग्ध कोरोना संक्रमित ऐसे भी हैं जो, नसिर्ंग स्टाफ के सामने अधनंगी हालत में ही घूमना शुरू कर देते हैं। इतना ही नहीं वॉर्ड में मौजूद नर्सिंग स्टाफ के साथ हदें पार करते हुए अश्लील गाने तक गाने से बाज नहीं आ रहे हैं।’

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn