21 मार्च को होगा आईआईएम का दीक्षांत समारोह

लखनऊ – इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट(आईआईएम) लखनऊ का 34वां दीक्षांत समारोह 21 मार्च को होगा। हालांकि, अभी तक कितने स्टूडेंट्स को डिग्री और मेडल दिए जाएंगे, इसकी घोषणा नहीं की गई है। संस्थान जल्द ही इसका विस्तृत कार्यक्रम जारी करेगा। आईआईएम लखनऊ को असोसिएशन ऑफ अडवांस कॉलेजिएट स्कूल ऑफ बिजनेस (एएसीएसबी) इंटरनैशनल की मान्यता मिल गई है। आईआईएम लखनऊ की निदेशक प्रो. अर्चना शुक्ला ने बताया कि एएसीएसबी अपनी मान्यता उन संस्थानों को देती है, जिन्होंने शिक्षण, अनुसंधान, पाठ्यक्रम विकास और छात्र शिक्षण सहित सभी क्षेत्रों में उत्कृष्टता पर ध्यान दिया हो।

आईआईएम लखनऊ की 34वां बैच 2018-20 के प्लेसमेंट की प्रक्रिया पूरी हो गई है। बैच के सभी 443 छात्र-छात्राओं को रिकॉर्ड टाइम में 140 से ज्यादा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कम्पनियों ने काम करने के लिए चुना है। अच्छी बात यह है कि 443 छात्र-छात्राओं को 447 विकल्प मिले थे। आईआईएम के आंकड़ों के मुताबिक, छात्रों को औसत पैकेज 24.25 लाख रुपये का मिला है। यह सूचना स्टूडेंट्स अफेयर्स एंड प्लेसमेंट के चैयरमैन प्रो. राजेश ने दी। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि किस छात्र को और किस कम्पनी ने सर्वाधिक पैकेज दिया गया है।

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn