डॉ गणेश दत्त सारस्वत की मनाई गई जयंती

बिसवां (सीतापुर)। बिसवां तहसील की माटी में जन्में साहित्य के शलाका पुरुष डॉ गणेश दत्त सारस्वत की 83वी जयंती हिंदी सभा के तत्वाधान मे नरोत्तम सभागार मे मनाई गई। जयंती समारोह हिंदी सभा के संरक्षक रमारमण त्रिवेदी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। वाणी वंदना अशोक अविरल ने की। अतिथियों का स्वागत व परिचय सुनील कुमार सारस्वत ने किया। इस अवसर पर साहित्यकारों ने स्वर्गीय गणेश दत्त सारस्वत के व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला। साहित्यकार डॉ वेद प्रकाश आर्य व शिवरतन शुक्ल को डॉ गणेश दत्त सारस्वत स्म्रति सम्मान से हिंदी सभा अध्यक्ष आशीष मिश्र, रजनीश मिश्र भगौती गुप्त व सुनील कुमार सारस्वत ने प्रशस्ति पत्र उत्तरीय आदि देकर सम्मानित किया।

डॉ निरुपिमा अवस्थी को श्रीमती सुषमा सारस्वत सम्मान श्रीमती ज्योति सारस्वत, दीक्षा सारस्वत व अनुपमा अवस्थी ने प्रशस्ति पत्र व उत्तरीय देकर सम्मानित किया गया। समारोह में संदीप मिश्र सरस, यज्ञदत्त मिश्र,कमलेश मौर्य मृदु, गौरीशंकर वैश्य,डॉ मनोज दीक्षित, दिनेश मिश्र राही, घनशयाम शर्मा ने काव्यांजलि के माध्यम से अपनी भावनाएं व्यक्त की। समारोह का संचालन रजनीश मिश्र ने किया। इस अवसर पर दिनेश चंद्र पांडेय,चंद्रशेखर शुक्ल,कमलेश पांडेय,अभिषेक बाजपेयी, अरुण शर्मा,अरुणेश मिश्र,चंद्रपाल मिश्र,राधेश्याम मिश्र,उमाशंकर त्रिवेदी ,गप्पू,ने अपने वक्तव्य से श्रद्धासुमन अर्पित किए।

रिपोर्ट
अश्वनी कुमार त्रिपाठी

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn