बेल के शरबत से दूर होती है गैस, कब्ज और अपच की समस्या

लखनऊ: बलरामपुर अस्पताल के फिजिशियन डॉ सुनील कुमार बताते हैं कि बेल में मौजूद विटामिन-ए आंखों की सेहत के लिए फायदेमंद है वहीं आयरन और जिंक बालों की सेहत का ध्यान रखते हैं. इसके शरबत का सेवन करने से कब्ज से परेशान लोगों को भी राहत मिलती है. इसको पीने से गैस, कब्ज और अपच की समस्या से आराम मिलता है.

क्वीन मेरी अस्पताल की डॉ. रेखा सचान बताती हैं कि बेल का शरबत सभी की सेहत के लिए फायदेमंद होता है. गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अधिक गर्मी लगती है. सेहत भी बिगड़ने लगती है. अगर रोज दो ग्लास गर्भावती महिलाएं बेल का जूस पिएगी तो उनके लिए फायदेमंद रहेगा. पेट में ठंडक पहुंचेगी. साथ ही ग्लूकोज की भी कमी नहीं होगी. बेल का शरबत बनाने के लिए सबसे पहले बेलन की मदद से बेल के फल को तोड़कर इसके बाहरी मोटे छिलके को इसके गूदे से अलग कर दें. अब गूदे में से बीज निकाल दें. ध्यान रखें कई बार बेल के फल के बीज के आस-पास बहुत सारा जैल लगा होता है, जो स्वाद में कड़वा होता है. इसे यदि हटाया न किया जाए तो शरबत में भी कड़वाहट आने लगती है.

इसके बाद एक बड़े बाउल में बेल के फल का गूदा लें और उसमें 1 ग्‍लास पानी डालकर अच्‍छी तरह से मिलाएं. ऐसा करने से आप गूदे को अच्‍छे से मिक्‍स भी कर पाएंगे और उसमें मौजूद बीज भी अलग हो जाएंगे. अब एक बड़ी छन्‍नी से इस मिश्रण को छान लें. छन्‍नी में थोड़ा और पानी डालें ताकि जितना हो सके गूदे से रस निकल जाए. अब आप चाहें तो इसमें अपने स्‍वादानुसार चीनी डाल सकते हैं. अब एक ग्‍लास में पुदीने की पत्तियां डालकर चुटकीभर नमक डालें. अब इसमें बेल का शरबत मिलाकर सर्व करें. अगर आप चाहें तो इसमें बर्फ भी डाल सकते हैं.

बेल का शरबत पीने के फायदे

– यह दिल से जुड़ी बीमारियों से बचाने में सहायक है.
– गैस, कब्ज की समस्या में राहत देता है.
– कोलेस्ट्रॉल स्तर को नियंत्रित रखने में मददगार है.
– गर्भवती महिलाओं के नवजात के लिए फायदेमंद है.
– दस्त और डायरिया की समस्या में भी फायदेमंद है.
– पेट को ठंडक देता है.
– नई मांओं के लिए भी फायदेमंद है.
– कैंसर से बचाव में असरदार माना जाता है.
– खून साफ करने में सहायक होता है.

ताज़ा समाचार

YouTube
LinkedIn
Share