गरीबों के लिए रखे खाद्यान्न में हो रही है हेरा-फेरी

हैलाकांडी- दक्षिणी असम के हैलाकांडी जिले में गरीबों को उपलब्ध कराने के मकसद से उचित मूल्य की दुकान को मुहैया कराए गए चावल एवं गेहूं के आटा की हेरा-फेरी के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिला पुलिस अधीक्षक पबींद्र कुमार नाथ ने बताया कि अलगापुर मंडल में बेराखालरपर एलपी स्कूल से बड़ी मात्रा में चावल और गेहूं का आटा बरामद किया गया।

नाथ ने कहा कि चावल की 45 बोरियां और गेहूं के आटे की पांच बोरियां स्कूल से बरामद की गईं। स्कूल का इस्तेमाल गोदाम की तरह किया गया था। हर बोरी में 50-50 किलोग्राम खाद्यान्न था। इनका कुल वजन 2,500 किलोग्राम था।

पुलिस ने बताया कि उचित मूल्य दुकान का मालिक फरार है। उसकी तलाश की जा रही है। वह आंचलिक पंचायत का सदस्य और उस स्कूल की प्रबंध समिति का अध्यक्ष है, जिसमें खाद्यान्न रखा गया था। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में बुधवार को एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया, जबकि दो अन्य लोगों को कुछ दिन पहले गिरफ्तार किया गया था। मामले की आगे जांच जारी है।

ताज़ा समाचार

YouTube
LinkedIn
Share