पंजाब में विस्फोट से 23 की मौत 30 घायल

गुरदासपुर में बुधवार शाम को पटाखा फैक्ट्री में हुए भीषण विस्फोट में अब तक 23 लोगों की मौत हो गई है और करीब 30 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। सड़क पर सामान्य तौर पर लोग गुजर रहे थे और अपने रोजमर्रा के कामों में लगे थे और अचानक धमाका हो गया। जिसके बाद हर तरफ धूल का गुबार उठा और कुछ भी दिखना बंद हो गया।

बचाव कार्य में लगी एनडीआरएफ की टीम

हादसे के बाद एनडीआरएफ की दो टीमें बचाव कार्य में लगी हैं। बताया जा रहा है कि धमाके के समय फैक्ट्री में 50 से ज्‍यादा मजदूर काम कर रहे थे जिनका अब कोई पता नहीं चल रहा है। फिलहाल मलबे में अभी भी लोगों की तलाश की जा रही है। धमाके को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आर्थिक मदद का ऐलान किया है। सीएम के ऐलान के मुताबिक, मरने वालों के पीड़ित परिवार को 2 लाख रुपये की आर्थिक मदद और गंभीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपये और उनका इलाज अमृतसर के मेडिकल कॉलेज में कराने का ऐलान किया है। इसके साथ ही सीएम ने मामूली रूप से घायल हुए लोगों को 25 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है।

सांसद सनी देओल ने जताया दुख

धमाके की खबर सुनकर गुरुदासपुर से बीजेपी सांसद सनी देओल ने दुख प्रकट किया। सनी देओल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि बटाला की पटाखा फैक्ट्री में धमाके की खबर से दुख हुआ। एनडीआरएफ की टीम और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जुटा है।

मजीठिया ने बोला सरकार पर हमला

अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने बटाला फैक्ट्री मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए सरकार पर हमला बोला। मजीठिया ने कहा कि जिनकी मौत हुई है, उनके परिवार के लिए मेरी संवेदना है। लेकिन मेरा पंजाब सरकार से सवाल है कि आबादी क्षेत्र में ऐसी पटाखा फ़ैक्टरी कैसे चलाई जा रही थी। क्या DC को ऐसी फ़ैक्टरी की जानकारी नहीं थी? ऐसा गैर कानूनी काम अफसरों के साथ बिना मिलीभगत नहीं चल सकता। उन्होंने कहा कि सप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के बाद भी ऐसी फ़ैक्ट्री कैसे चल रही थी। इस सरकार में पहले अमृतसर फिर लुधियाना और अब यहां, लगातार ऐसे हादसे हो रहे हैं।

ग्राम्य संदेश डेस्क

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn