जानवरों के सहारे भारत में जानलेवा बीमारी फैलाने की फिराक में पाकिस्तान

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अब पाकिस्‍तान जानवरों के सहारे भारत में तबाही मचाने की फिराक में है। जिसके मद्देनजर बीएसएफ ने बॉर्डर पर तैनाती बढ़ा दी है। घुसपैठ के साथ-साथ पाकिस्‍तानी जानवरों पर भी कड़ी नजर रखी जा रही है।

दरअसल, इस समय पाकिस्‍तान में फैला कांगो हेमेरेजिक फीवर अब भारत में भी पैर पसार सकता है। इसको देखते हुए राजस्‍थान सरकार ने बॉर्डर से सटे सभी इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया है। जवानों को दुश्‍मन के साथ-साथ पाकिस्‍तानी जानवरों पर भी कड़ी नजर रखने के लिए कहा गया है। पाकिस्‍तान के जानवरों से इस बार खतरा बढ़ गया है। इस खतरे को देखते हुए राजस्‍थान सरकार ने सीमा से सटे सभी इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया है। वहां के चिकित्‍सा विभाग ने बाड़मेर, जैसरमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर और जोधपुर स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीमों को भेज दिया गया है।

कांगो हेमेरेजिक फीवर जानलेवा साबित हो सकता है। इस वायरल इन्फेक्शन से पीड़ित 30 से 80 फीसदी मामलों में रोगी की मौत हो जाती है। यह बीमारी पशुओं में पाए जाने वाले पैरासाइट ‘हिमोरल’ के जरिए इंसानों में फैलती है। कांगों फीवर के ज़्यादातर मामले पश्चिमी और पूर्वी अफ्रीका में पाए जाते हैं। पिस्सू के जरिए यह बीमारी जानवरों से फैलती है। इस फीवर से पीड़ित व्यक्ति की बॉडी से खून आने लगता है और कई महत्वपूर्ण अंग काम करना बंद कर देते हैं।

इन्फेक्टेड व्यक्ति को मसल्स में दर्द के साथ तेज बुखार आता है। इसके अलावा सिर दर्द, चक्कर आना, रोशनी से चिड़चिड़हट होना और आंखों से पानी आना और जलन होने की समस्या सामने आती हैं। इसके अलावा रोगी को उल्टी, गले में खराश और पीठ में दर्द की भी समस्या होती है। इस बुखार में डेंगू की ही तरह प्लेटलेट्स काउंट तेजी से गिरने लगते हैं।

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn