‘जम्मू कश्मीर वालों के साथ अन्याय का समय खत्म, विकास में खलल नहीं डाल पाएगा कोई’, बोले गृहमंत्री अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह जम्मू कश्मीर के दौरे पर हैं. तीन दिन के दौरे पर जम्मू कश्मीर पहुंचे अमित शाह के दौरे का आज दूसरा दिन है. उन्होंने आज यहां रैली को संबोधित करते हुए कहा कि वह आज जम्मू ये कहने आए हैं कि जम्मू वालों के साथ अन्याय का समय समाप्त हो चुका है, अब कोई आपके साथ अन्याय नहीं कर सकता. यहां पर विकास का जो युग शुरू हो रहा है उसमें खलल पहुंचाने वाले, खलल डाल रहे हैं लेकिन विकास के युग में कोई खलल नहीं डाल पाएगा. गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि एक जमाना था जब जम्मू-कश्मीर में कहने को पांच मगर चार ही मेडिकल कॉलेज थे लेकिन, आज यहां सात नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की जा चुकी है. पहले 500 विद्यार्थी यहां से MBBS कर सकते थे, अब लगभग 2,000 विद्यार्थी यहां MBBS कर पाएंगे.

अनुच्छेद 370 हटने से लाखों लोगों को मिले अधिकार -अमित शाह

अमित शाह ने इस दौरान कहा कि “पहले जम्मू में सिखों, खत्रियों, महाजनों को भूमि खरीदने का अधिकार नहीं था. जो शरणार्थी वहां से यहां आए थे, उनके अधिकार नहीं थे, वाल्मीकि, गुर्जर भाइयों के अधिकार नहीं थे. भारत के संविधान के सभी अधिकार अब मेरे इन भाइयों को मिलने वाले हैं”. उन्होंने कहा कि 5 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री मोदी ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म किया. इससे जम्मू-कश्मीर के लाखों लोगों को अपने अधिकार प्राप्त हुए. साथ ही अब भारतीय संविधान के सभी अधिकार यहां के सभी लोगों को मिल रहे हैं. अमित शाह ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि कल ये तीन परिवार वाले मुझसे सवाल पूछ रहे थे कि क्या देकर जाओगे? भाई मैं तो हिसाब लेकर आया हूं कि क्या देकर जाऊंगा. मगर 70 साल तीन परिवार वालों ने जम्मू-कश्मीर में राज किया, आपने क्या दिया इसका हिसाब लेकर आओ. आज जम्मू-कश्मीर हिसाब मांग रहा है.

जम्मू-कश्मीर का विकास PM मोदी की प्राथमिकता : शाह

मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनते ही जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए 55,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया था. आज 55,000 करोड़ रुपये के पैकेज में से 33,000 करोड़ रुपये खर्च हो चुका है, विकास की 21 योजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं.

YouTube
LinkedIn
Share