राहुल के साथ बैठक के बाद बोले मनोज झा, देश में न्याय और आज़ादी महफूज़ नहीं रह गई है

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने विपक्ष के बड़े नेताओं को आज चाय पर बुलाया था। इस चाय पर चर्चा में सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई। इस बैठक के बाद आरजेडी के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने बड़ा बयान दिया है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक मनोज झा ने कहा कि चर्चा में सदन के अंदर और बाहर संघर्ष का विकल्प तय हुआ है और संविधान की प्रस्तावना को सुरक्षित रखने की बात हुई है।

देश में न्याय और आज़ादी महफूज़ नहीं रह गई है। पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती कीमतों पर हम कॉन्स्टिट्यूशन क्लब से संसद तक साइकिल से आए। विपक्षी नेताओं के साथ बैठक में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि मेरे विचार से सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हम एकजुट हुए हैं। यह आवाज (जनता की) जितनी एकजुट होगी, यह आवाज उतनी ही शक्तिशाली होगी, भाजपा-आरएसएस के लिए इसे दबाना उतना ही मुश्किल होगा।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी नेता पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और खाद्य वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में साइकिल से संसद पहुंचे। राहुल के साथ साइकिल यात्रा पर मनोज झा भी साथ थे। कांस्टीट्यूशन क्लब में विपक्षी नेताओं के साथ नाश्ते पर चर्चा के बाद राहुल गांधी साइकिल चलाते हुए संसद पहुंचे। उन्होंने साइकिल पर आगे की ओर एक तख्ती लगा रखी थी जिस पर रसोई गैस के सिलेंडर की तस्वीर थी और इसकी कीमत 834 रुपये लिखी हुई थी।

ताज़ा समाचार

YouTube
LinkedIn
Share