पूर्व मुख्‍यमंत्री कल्‍याण सिंह की हालत नाजुक, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने SGPGI पहुंचकर लिया हाल-चाल

उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री कल्याण सिंह की हालत नाजुक बनी हुई है। अब वह खुद से ऑक्सीजन नही ले पा रहे हैं। जिसकी वजह से उनके फेफड़ों और खून में पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति नही हो पा रही है। फेफड़े, दिल, गुर्दा, लिवर की पर दबाव बढ़ गया है। इसका असर दिमाग पर भी पड़ रहा है।

मंगलवार की रात डॉक्टरों ने कल्याण के गले में ट्यूब डालकर फेफड़ों को ऑक्सीजन देनी शुरू की। इसे चिकित्सा भाषा में इंट्यूबेट (मैकेनिकल वेंटिलेशन) कहते हैं। इस बीच केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को एसजीपीजीआई पहुंचकर कल्‍याण सिंह का हाल-चाल लिया। उन्‍होंने उनके शीघ्र स्‍वस्‍थ होने की कामना की।

एसजीपीजीआई के निदेशक डॉ. आरके धीमन ने बताया कि क्रिटिकल केयर मेडिसिन (सीसीएम) के आईसीयू में भर्ती पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के उपचार में लगी विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम ने बुधवार सुबह वार्ड का निरीक्षण कर उनकी सेहत का जायजा। उनकी अभी भी हालत नाजुक बनी हुई है। कोई खास सुधार नही हो रहा है। शरीर में संक्रमण अभी भी बना हुआ है। उनके उपचार में दिल, गुर्दा, डायबिटीज, न्यूरो, यूरो, गैस्ट्रो व क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग समेत 12 विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम लगातार निगरानी में लगी हुई है।

समर्थकों में चिंता का माहौल

पूर्व मुख्‍यमंत्री कल्याण सिंह की तबीयत पिछले दो दिनों से ज्‍यादा खराब चल रही है। कल राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी एसजीपीजीआई पहुंचकर उनका हाल-चाल लिया। पूर्व मुख्‍यमंत्री की सेहत को लेकर भाजपा, विभिन्‍न राजनीतिक दलों और उनके समर्थकों के बीच चिंता का माहौल है। अलीगढ़ में उनके समर्थक बेहद चिंतित हैं। कल्‍याण सिंह मूलत: अलीगढ़ के अतरौली तहसील क्षेत्र के हैं। 

ताज़ा समाचार

YouTube
LinkedIn
Share