जासूसी कांड पर बोली कांग्रेस, मोदी सरकार ने पेगासस का इस्तेमाल कर गिराई कर्नाटक की कांग्रेस-जेडीएस सरकार

कांग्रेस ने कथित पेगासस सॉफ्टवेयर के खुलासे को लेकर केन्द्र सरकार पर मंगलवार को एक बार फिर से हमला बोलते हुए लोकतंत्र के अपहण का आरोप लगाया. कर्नाटक की कांग्रेस-जेडीएस सरकार के गिराने में पेगासस सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल करने का आरोप लगाते कहा कि क्या गृह मंत्री को पद पर रहने का अधिकार है? कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार ने ऑपरेशन कमल के माध्यम से लोकतंत्र का अपहरण और प्रजातंत्र का चीरहरण किया है.

उन्होंने कहा कि इसका क्रोनोलॉजी ये है कि चुनी हुई सरकार की खरीद फरोख्त करने में पैगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया गया ताकि कांग्रेस की सरकार गिराई जा सके. उन्होंने कहा कि आगे पता चलेगा कि मध्य प्रदेश सहित किन-किन राज्यों में सरकार गिराई गई और सत्ता का उलटफेर किया गया. इसीलिए संसद में बहस नहीं कराना चाहते हैं.

कांग्रेस बोली- मोदी सरकार ने देशद्रोह का काम किया

सुरजेवाला ने कहा कि जब मोदी सरकार ने चुने हुए जनमत की हत्या की है, मोदी सरकार ने देशद्रोह किया है. मोदी सरकार ने संविधान को पैर तले रौंदा है और मोदी सरकार ने पेगासस सॉफ्टवेयर का दुरुपयोग कर कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार गिराई है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, राज्यसभा में प्रतिपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन और लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी और केसी वेणुगोपाल, कर्नाटक में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. 

मल्लिकार्जुन खड़गे इस दौरान कहा कि ना सिर्फ कर्नाटक बल्कि कई राज्यों में पेगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया गया हो सकता है. जबकि केसी वेणुगोपाल ने केन्द्र सरकार पर संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र सरकार इस सॉफ्टवेयर के जरिए सरकार को गिराने में संलिप्त है. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में जो सरकार गिरी उसमें भी पेगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल हो सकता है कि किया गया हो.

अधीर रंजन ने कहा- ये है मोदी जी का न्यू इंडिया

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि जासूसी कांड बीजेपी सरकार की नाकामी का प्रमाण है. यह साबित होता है कि लोकतंत्र को आज की बीजेपी पार्टी ने जासूसी तंत्र में तब्दील कर दिया है. उन्होंने कहा कि चुनाव में जीतने के बाद मोदी जी ने सरकार बनाई लेकिन जब दूसरे दलों ने चुनाव जीतने के बाद सरकार बनाने की कोशिश की तो मोदी और अमित शाह दोनों ने मिलकर सरकार को तोड़ने के लिए जासूसी तंत्र का इस्तेमाल कर नया मिसाल पेश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि ये न्यू इंडिया है.

मलिकार्जुन खड़गे बोले- मध्य प्रदेश और गोवा में भी हुआ होगा इस्तेमाल

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पेगासस खुलासे पर कहा कि यह मोदी जी के न्यू इंडिया की हकीकत है. उन्होंने कहा कि हमारी कांग्रेस की सरकार गिराने के लिए किसने क्या किया इसका तो पता चल रहा है. कल के दिन हम इसको लेकर विचार करेंगे. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र को खत्म करने के लिए मोदी जी और शाह जी तैयार हो गए है. लोकतंत्र से ही सब कुछ मिला है लेकिन लोकतंत्र को खत्म करने dictatorship करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि इस तरह से उन्होनें मध्य प्रदेश , गोवा का किया होगा.

सिब्बल बोले- ये है राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़

इससे पहले, पेगासस खुलासे पर कांग्रेस के सीनियर नेता कपिल सिब्बल ने मंगलवार को केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है. कपिल सिब्बल ने इसे राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करार दिया है. सिब्बल ने कहा कि पेगासिस पर सच्चाई सामने नहीं आ रही है. वो सिर्फ सरकार को देती है. सरकार के द्वारा ये लेने के लिए पैसे भी दिए गए. सरकार ने नहीं दिए तो फिर ये किसने दिए ये बात सरकार को बतानी होगी.

कपिल सिब्बल ने कहा कि पेगासस सॉफ्टवेयर का लिंक देते हैं तो उससे पता चलता है कि आप क्या कर रहे हो. सरकार को ये बताना चाहिए कि उन्होंने कभी इसका इस्तेमाल किया या नहीं. उन्होंने कहा कि सरकार ने अगर इसका इस्तेमाल नहीं किया तो फिर किसने किया क्योंकि सरकार को अलावा तो वो किसी को बेचते ही नहीं है. उन्होंने कहा कि आप कर्नाटक में सिद्धारमैया, देवगौड़ा सबकी जासूसी करवा रहे थे. ये राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है.

गौरतलब है कि इजरायी सॉफ्टवेयर पेगासस के जरिए जासूसी कराने का मामले मीडिया रिपोर्ट में सामने आया है. इसमें देश के कैबिनेट मंत्री से लेकर विपक्ष के नेताओं के साथ ही करीब 300 जानी-मानी हस्तियों की फोन टैपिंग का आरोप लगाया गया है. हालांकि, सरकार ने रिपोर्ट को पूरी तरह खारिज करते हुए इसे बदनाम करने का षडयंत्र करार दिया है.

YouTube
LinkedIn
Share