ट्रैफिक चालान से बचने का सबसे आसान तरीका, इस ऐप से सारे काम होंगे आसान

लखनऊ – नया मोटर व्हीकल एक्ट आने के बाद सभी लोग वाहन लेकर घर से निकलने में डर रहे हैं। मामूली सी लापरवाही की वजह से लोगों का हजारों रुपयों का चालान सेकेण्डों में कट जा रहा है। पिछले दिनों गुड़गांव तथा अन्य जगहों से 23 हजार व 59 हजार रुपए की चालान कटने की खबर सुनकर सभी लोगों के होश उड़ गए हैं।

संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट वाहन चालकों के जेब पर प्रत्यक्ष रुप से असर डाल रहा है। दिल्ली में पिछले दिन नए नियम के हिसाब से चालान कटने की वजह से हताश होकर युवा ने अपनी गाड़ी मौके पर ही जला दी थी। नए नियम के हथौड़े से बचने व खुद को हताश होने से बचाने के लिए अगर आप एक नयाब तरीका अपना लेते हैं तो आप इतने भारी – भरकम चालान राशि के चंगुल से आसानी से बच सकते हैं।

अगर आपके पास स्मार्ट फोन है तो आप एक एप तुरंत डाउनलोड कर लीजिए, जिसका नाम है एम परिवहन या डिजी लॉकर। यह एप सरकार द्वारा अधिकृत है, जिसे हम डिजीटल वाहन कॉपी भी कह सकते हैं। आप इस एप में अपने वाहन के सभी कागजात रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी), इंश्योरेंस सर्टिफिकेट, पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल सर्टिफिकेट, ड्राइविंग लाइसेंस और परमिट सर्टिफिकेट स्कैन करके रख सकते हैं, और जब कोई ट्रैफिक पुलिस आपको पकड़ती है तो आप तुरंत मोबाइल खोलकर उसे दिखा दिजिए।

डिजीटल कॉपी रखने से आपको अपने वाहन के मूल प्रति को हमेशा साथ ले जाने की कोई आवश्यक्ता नहीं पड़ेगी। जिससे आप इस मोटर व्हीकल एक्ट के भारी भरकम चालान के चंगुल से आसानी से बच सकते हैं। नए मोटर व्हीकल एक्ट  के बाद  शराब पीकर वाहन चलाने पर 2 हजार की बजाय 10 हजार रुपये जुर्माना देना पड़ेगा। वहीं रैश ड्राइविंग पर जुर्माना 1 हजार से बढ़ा कर 5 हजार रुपये कर दिया गया है। बिना लाइसेंस ड्राइविंग करने पर 500 रुपये बढ़ा कर 5 हजार रुपये, ओवरस्पीडिंग पर 400 रुपये से बढ़ा कर 1000-2000 रुपये। बिना सीटबेल्ट ड्राइविंग करने पर 100 रुपये से बढ़ा कर 1000 रुपये जुर्माना लगेगा।

रिपोर्ट – ग्राम्य संदेश डेस्क

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn