कई तरह से बैंक से फायदेमंद है पोस्ट ऑफिस में बचत खाता खोलना, जानिए कैसे

पोस्ट ऑफिस में बचत खाता खोलना ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है. अगर किसी व्यक्ति का पोस्ट ऑफिस में बचत खाता है और एक वित्त वर्ष में उसके खाते में 3500 रुपये तक ब्याज आता है तो इसपर किसी तरह का टैक्स नहीं लगेगा. इसके अलावा अगर ज्वांइट खाता है तो इसपर अधिकतम 7000 रुपये के ब्याज पर टैक्स नहीं लगेगा. आमतौर पर बैंक में कम ब्याज मिलता है. इसके मुकाबले पोस्ट ऑफस बचत खाते पर ब्याज भी अधिक मिलता है और टैक्स में भी छूट प्राप्त होता . 

कई तरह के अन्य फायदे

State Bank of India (SBI) में बचत खाते पर 2.7 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलता है लेकिन पोस्ट ऑफिस में 4 प्रतिशत का ब्याज मिलता है. इस प्रकार पोस्ट ऑफिस में बची हुई ब्याज आय पर सेक्शन 80TTA/80TTB के तहत 10000/50000 रुपये तक का डिडक्शन क्लेम कर सकता है. पोस्ट ऑफिस में न्यूनतम 500 रुपये जमाकर बचत खाता खोला जा सकता है.

पोस्ट ऑफिस में बचत खाते पर महीने के आखिर में या महीने के 10 तारीख को न्यूनतम बैलेंस जोड़ा जाता है. पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट होने पर करदाता एक ही वित्त वर्ष में सेक्शन 10(15)(i) और सेक्शन 80TTA/80TTB दोनों का टैक्स बेनिफिट हासिल कर सकता है.  

ब्याज दर में परिवर्तन नहीं

छोटे निवेशकों के लिए पोस्ट ऑफस फायदेमंद सौदा है. आमतौर पर यहां ब्याज दर ज्यादा मिलता है और बचत खाते के साथ-साथ जमा खाते पर भी लाभ मिलता है. स्मॉल सेविंग्स में बचत खाते की समीक्षा तिमाही आधार पर की जाती है. जुलाई से सितंबर के बीच तिमाही पर सरकार ने स्मॉल सेविंग्स पर ब्याज की दर में किसी तरह का परिवर्तन नहीं किया है. 

YouTube
LinkedIn
Share