अब मनमाने तरीके से नहीं भर सकेंगे हाउस टैक्स

मनमाने तरीके से हाउस टैक्स भरने का खेल अब खत्म होने वाला है। अब क्षेत्रवार इसका सर्वे कराया जाएगा और गड़बड़ी मिलने पर लोगों से जुर्माना भी वसूल किया जायेगा। जल्द ही नगर विकास विभाग आदेश जारी करने वाला है।

शहरी क्षेत्रों में स्वकर निर्धारण व्यवस्था लागू है। यानी आप अपने घर की नापजोख करते हुए स्वयं हाउस टैक्स तय करते हुए जमा कर सकते हैं। नगर विकास विभाग को समीक्षा के दौरान पता चला है कि स्वकर निर्धारण के आधार पर टैक्स तो लिया जा रहा है, लेकिन मौके पर इसका शत-प्रतिशत सत्यापन नहीं कराया जा रहा है। इसीलिए शासन स्तर पर तय किया गया है कि हाउस टैक्स देने वालों के घरों का अनिवार्य रूप से सत्यापन कराया जाए।

सर्वे में गड़बड़ी मिलने पर नए सिरे से हाउस टैक्स निर्धारण होगा और कुछ साल का पिछला टैक्स भी लिया जाएगा। नगर विकास विभाग चाहता है कि शहरों में बनी नई कालोनियों को अनिवार्य रूप से हाउस टैक्स के दायरे में लाया जाए। लोगों की सुविधा के लिए वहां टैक्स वसूली कैंप भी लगाए जाएं।

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn