कोरोना : घबरायें नहीं, सावधानी बरतें

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने कोरोना वायरस को लेकर एडवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी में लोगों को स्वच्छता संबंधित नियमों का पालन करने की सलाह दी गई है। सरकार की सलाह है कि इन उपायों को करने से कोरोना वायरस के खिलाफ सुरक्षा में मदद मिल सकती है। मंत्रालय ने कोरोना वायरस को लेकर व्यापक जागरूकता के लिए 24X7 कंट्रोल रूम का हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार आपको कोरोना वायरस से बचने के लिए कुछ खास उपाय नहीं करने हैं। बल्कि अपने रहन सहन में थोड़ा सतर्क रहने की जरूरत है, अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान देने की जरूरत है। जैसे आपको बार बार साबुन से हाथ धोना चाहिए। छींक या खांसी आने पर मुंह को ढककर रखें। कच्चा या अधपका मांस खाने से बचें। सार्वजनिक स्थान पर ना थूंके। खांसी जुकाम वाले व्यक्ति से मिलने से बचें।

सरकार ने सक्रिय औषधि अवयव (Active Pharmaceutical Ingredients) और उनके द्वारा तैयार नुस्खों के सम्बंध में निर्यात नीति तथा प्रतिबंधित निर्यात में संशोधन किया है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अधीन विदेश व्यापार महानिदेशालय द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि प्रतिबंध फौरन प्रभाव में आ जायेंगे और अगले आदेशों तक लागू रहेंगे। स्वास्थ्य विभाग ने नोएडा व ग्रेनो की 1000 कंपनियों को नोटिस देकर एहतियात बरतने को कहा है।

कुछ सावधानियां बरतकर इस जानलेवा वायरस की चपेट में आने से बचा जा सकता है। हम आपको बताते हैं कि इस वायरस से बचाव के लिए क्या करें और क्या नहीं और इसके लक्षण क्या हैं।

  • यह वायरस, खांसी, छींक, श्वास और छूने से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है।
  • इस वायरस से बचाव के लिए मास्क का इस्तेमाल करें।
  • लोगों से हाथ न मिलाएं और गले भी न मिलें। 5 फीट की दूरी से बात करें।
  • इस वायरस का आकार 400-500 माइक्रोन का है जो अन्य वायरस से बड़ा है।
  • यह वायरस धातु की सतह पर 12 घंटे, कपड़ों पर 9 घंटे, और हमारे हाथों तथा शरीर पर 10 मिनट तक जीवित रहता है।
  • अपने आसपास और घर की सफाई रखें। कपड़ों को अच्छी तरह से धोएं और कम से कम दो घंटे धूप में सुखाएं।
  • हर 15 मिनट में कम से कम एक घूंट गुनगुना पानी पीते रहें।
  • अपने हाथों को कम से कम 20 सेकंड तक रगड़कर साबुन से धोएं।
  • गंदे हाथों से अपनी नाक और मुंह को न छुएं और न ही गंदे हाथों से कुछ खाएं।
  • आइसक्रीम, कोल्डड्रिंक, बर्फ, बाजार की लस्सी, ठंडी छाछ और अन्य ठंडी वस्तुओं के सेवन से बचें।
  • बाजार में मिलने वाले दूध से बने उत्पाद जैसे चीज, बटर, मायोनीज का सेवन न करें।
  • नमक के गर्म/गुनगुने पानी से गरारे करें, इससे वायरस फेफड़ों तक नही पहुंच पाएगा।
  • रोजाना तुलसी, लौंग, अदरक और हल्दी का गर्म दूध पिएं।
  • गर्म स्थान पर रहें क्योंकि यह वायरस 27 डिग्री तापमान पर मर जाता है।
  • कपूर, लौंग, इलाइची और जावित्री को पीसकर अपने साथ रखें और समय-समय पर उसे सूंघते रहें।
  • विटामिन-सी युक्त फलों जैसे संतरे, मौसमी और आंवला खाएं। नींबू का इस्तेमाल भी जरूर करें।
  • सार्वजनिक स्थलों और भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें।
  • प्रतिदिन प्राणायाम और सूर्यनमस्कार करें। इससे श्ववसन तंत्र और फेफड़े मजबूत होंगे।
  • सर्दी, खांसी, कफ, बुखार होने वाले व्यक्ति को डॉक्टर के पास तुरंत जाने की सलाह दें।
  • कोरोनावायरस संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाकर रखें।
  • शाकाहारी और हमेशा ताजा भोजन खाएं। मांसाहार के सेवन से बचें।
  • फ्रीज में रखी ठंडी वस्तुओं का सेवन बिल्कुल न करें।

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn