चौपाल लगाकर जिलाधिकारी ने सुनीं जनसमस्यायें

कछौना(हरदोई)। विकास खण्ड कछौना की ग्रामसभा त्यौरी मतुआ के पंचायत घर में गुरुवार को जिलाधिकारी चौपाल लगाकर लोगों की जन समस्याओं से रूबरू हुए। आवारा पशुओं की समस्या को देखते हुए किसानों व ग्रामीणों की मांग पर ग्रामसभा में शीघ्र ही गौ-आश्रय स्थल खुलने का खण्ड विकास अधिकारी को निर्देश दिया।

गुरुवार को जिलाधिकारी ने बिंदुवार सरकारी योजनाओं के बारे में बताया व सम्बन्धित अधिकारियों व ग्रामीणों से वास्तविक स्थिति के बारे में जाना। लेखपाल अनूप शुक्ला द्वारा ग्रामसभा में वंचित परिवारों की विरासत सूची तैयार की व महत्वपूर्ण योजना प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के बारे में विस्तृत रूप से बताया। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से पूछा कि किसी सार्वजनिक भूमि पर अवैध कब्जा तो नहीं है? खण्ड विकास अधिकारी अजीत कुमार सिंह द्वारा मनरेगा योजना के बारे में बताया। गांव के व्यक्ति को गांव में ही रोजगार मिल सकें, इसलिए यह महत्वपूर्ण योजना है। इससे ग्रामीणों को जीविकोपार्जन के लिए बाहर राज्यों को पलायन नहीं करना पड़ता है। खण्ड विकास अधिकारी द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में बताया, वर्ष 2016-17 में 12 लाभार्थियों को इस योजना का लाभ मिला है। वर्ष 2017-18 में चार लाभार्थी व वर्ष 2018-19 में तीन लाभार्थियों को लाभ दिया गया है।

जिला विकास अधिकारी रजित राम मिश्रा द्वारा पूछा गया कि इस योजना में कोई सुविधा शुल्क तो नहीं लिया गया है। तब ग्रामीण पन्ने खां द्वारा बताया गया ग्राम प्रधान पति शैलेंद्र कुमार ने 10000 रुपये की अवैध वसूली की है। जिस पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी को जांच कर दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्यवाही की बात कही। जिला विकास अधिकारी द्वारा खुले में शौच न जाने की अपील की गई, उन्होंने कहा अपनी बहू व बेटी की इज्जत के लिए घर में इज्जत घर (शौचालय) अवश्य बनवायें। डॉ० विनोद साहनी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी कछौना द्वारा आयुष्मान स्वास्थ्य भारत योजना के बारे में प्रमुखता से बताया कि इस योजना से किसी गरीब व्यक्ति की इलाज के अभाव में मृत्यु नहीं होगी। जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा बाल विकास परियोजना से संबंधित योजना की जानकारी दी गयी। पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा बताया गया कि अपने पशुओं का बीमा अवश्य कराएं। खण्ड शिक्षा अधिकारी मनोज कुमार द्वारा शिक्षा विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी गई जिसमें अभिवावकों से अपील करते हुए कहा कि आप अपने बच्चे को विद्यालय पढ़ने अवश्य भेजें।

पत्रकारों द्वारा में आधार कार्ड केंद्र कछौना में चालू करने की मांग पर जिलाधिकारी ने एक सप्ताह के अन्दर आधार कार्ड केंद्र सुचारू रूप से चालू कराने की बात कही। ग्रामीण राम बाबू द्वारा गांव के मुख्य मार्ग पर पुलिया टूटी होने के कारण आवागमन बाधित रहता है व जल निकासी नही होती है, की शिकायत पर लोक निर्माण विभाग को तत्काल सड़क बनवाने का कड़ा निर्देश दिया। ग्रामीण राजीव शर्मा द्वारा बताया गया कि ग्राम मतुआ के अंदर राम सिंह के घर से रामलाल के घर तक मार्ग पूरी तरीके से अवरोध है। इस मार्ग पर ग्राम पंचायत द्वारा निर्माण कार्य 15 वर्षों से नहीं कराया गया। पूर्व ग्राम प्रधान मोहम्मद शाहिद द्वारा ग्रामसभा में वर्तमान ग्राम प्रधान व लेखपाल की मिलीभगत से बाहरी गांव व अपात्र लोगों के आवासीय पट्टा कर दिए गए, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला स्तर से जांच कर रिपोर्ट प्रेषित करने की बात कही। ग्रामीण लालता सिंह ने सिंचाई के लिए पक्की नाली निर्माण की मांग की। ग्रामीणों ने ग्रामसभा में बरात घर की पुरजोर मांग की।

उप जिला अधिकारी सण्डीला द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के बारे में बताया। क्षेत्र पंचायत सदस्य दिनेश कुमार द्वारा ग्राम लायक खेड़ा में विद्युतीकरण कार्य होने के बावजूद अभी तक विद्युत आपूर्ति न चालू होने की शिकायत की। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के उपखण्ड अधिकारी आर०के० वर्मा को 3 दिन के अंदर गांव में विद्युत आपूर्ति चालू कराने का निर्देश दिया।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला विकास अधिकारी रजित राम मिश्रा, जिला कार्यक्रम अधिकारी, लोक निर्माण अधिकारी, विद्युत उपखण्ड अधिकारी आर०के० वर्मा, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी धर्मेंद्र सिंह, पूर्ति निरीक्षक दिवाकर सिंह, खण्ड विकास अधिकारी अजीत कुमार सिंह, ग्राम पंचायत विकास अधिकारी मोहम्मद सलीम, ग्राम विकास अधिकारी लक्ष्मी नारायण, ग्राम प्रधान कंचन, प्रधान पति शैलेंद्र कुमार वर्मा व ग्राम सदस्य गण सहित सैकड़ों की संख्या में पुरुष व महिलाएं मौजूद थीं

रिपोर्ट- पी०डी० गुप्ता

YouTube
LinkedIn
Share