ग्राम्य सन्देश

गांव व किसान की खुशहाली के लिए संकल्पित योगी सरकार व उसके मंत्री सोशल मीडिया के सहारे सीधे गांव के अंतिम व्‍यक्ति तक संवाद स्‍थापित करने में लगे हैं। हमारे गांव भले ही शहर जैसी सुख सुविधाओं से वंचित हैं लेकिन गांव वालों के हौसलों में कोई कमी नहीं। डिजिटल क्रांति का उन पर सीधा असर है। सूखे से निपटने के लिए बिना सरकारी मदद के वह खुद जंग लडते हैं। पत्‍थर तोड खुद निकालते हैं अपने लिए रास्‍ता। हमारे गांव में तमाम ऐसी संघर्ष गाथाएं पनपती हैं जिन पर अखबार व चैनल वालों की नजर नहीं जा पाती। ग्राम्‍य संदेश का लक्ष्‍य गांव के संघर्ष को गांववालों की जूझने की जिद को न सिर्फ से सरकार तक पहुंचाना है बल्कि हर कदम पर हमें गांववालों की आवाज बनना है। यह कोई मुश्किल काम नहीं क्‍योंकि आप हमारे साथ है। तो देर किस बात जल्‍द ही जुडिये www.gramyasandesh.com के फेसबुक पेज से जुडिये।

2 thoughts on “ग्राम्य सन्देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook
Twitter
YouTube
LinkedIn